विरार RPF: भाग रहे पॉकेटमार को किया गिरफ्तार

0
40
मेडिकल जाँच के बाद RPF ने उसे GRP वसई को सौंपा   
विरार RPF: भाग रहे पॉकेटमार को किया गिरफ्तार
Share

मेडिकल जाँच के बाद RPF ने उसे GRP वसई को सौंपा   

– NDI24 नेटवर्क
विरार. विरार प्लेटफॉर्म पर विरार आरपीएफ की मुस्तैदी ने पॉकेटमारी कर भाग रहे एक आरोपी को दौड़कर गिरफ्तार करने में सफलता पायी| आरपीएफ की पैनी निगरानी से विरार प्लेटफॉर्मों इन दिनों पॉकेटमारों और चोरों की सामत आयी हुई है| संदिग्ध गतिविधी होते
ही उनके गिरेवान पर आरपीएफ का शिकंजा कसता नजर आता दिखाई देता है|
ज्ञात हो कि पश्चिम रेलवे की उपनगरीय स्टेशन विरार स्टेशन पर यात्रियों को भयमुक्त और निर्विवाद रूप से यात्रा करने के लिए आरपीएफ पूरी निष्ठा व ईमानदारी से अपनी दायित्व निभा रही है| वह चाहे यात्रा करने वाले यात्री हो या अगली ट्रेन की इंतजार में प्लेटफॉर्मों पर सोये यात्री| यात्रियों की यात्रा सुलभ व सफल के लिए आरपीएफ जवान कोई कसर नहीं छोड़ते है| इसी क्रम में आईपीएफ आरपीएफ विरार के निर्देशन में टीओपीबी टीम के कांस्टेबल अर्जुन सैनी, श्रीचंद, और बाबुलाल गुर्जर द्वारा विरार स्टेशन गुप्त निगरानी की जा रही थी| तभी प्लेटफॉर्म क्रमांक 2 पर रात्री 2.15 बजे के आसपास एक संदिग्ध व्यक्ति दिखाई दिया| टीम ने प्लेटफॉर्म नं.3 से भी उस पर नजर रखे हुई थी| इसी बीच संदिग्ध व्यक्ति द्वारा सोये यात्री की जेब से पर्स और मोबाईल निकालकर सब-वे की तरफ भागने लगा| उक्त व्यक्ति को भागते देख आरएएफ जवान तुरंत दौड़कर उसे पकड़ लिया| आरपीएफ टीम ने सोये व्यक्ति को उठाया और पूछताछ की तो उसने पर्स और मोबाईल चोरी होने की बात कही| दोनों को आरपीएफ पोस्ट लाया गया| एसआईपीएफ गोपाल राय की उपस्थित में संदिग्ध व्यक्ति शंकर राम बहादुर विश्वकर्मा (28) की तलाशी ली गयी| तलाशी में जेन कंपनी  मोबाईल और पर्स से 70 रूपये की नगदी बरामद की गयी| शिकायतकर्ता विकेश कटारिया(25) ने अपने सामान को पहचान लिया| और पासवर्ड डालकर मोबाईल का लाक खोल दिया| आरोपी व्यक्ति का मेडिकल जाँच के बाद आरपीएफ ने उसे जीआरपी वसई को सौंप दिया|
Share

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here