मनपा तालाबों पर छठपूजा को लेकर उमड़ा छठ श्रद्धालुओं का सैलाब

0
29
विरोध के बावजूद मनाया गया पापडखिंड तालाब पर धूमधाम से छठपर्व
मनपा तालाबों पर छठपूजा को लेकर उमड़ा छठ श्रद्धालुओं का सैलाब
Share

विरोध के बावजूद मनाया गया पापडखिंड तालाब पर धूमधाम से छठपर्व

विरार. उत्तर भारत प्रसिद्ध छठपूजा के पावन पर्व पर मनपा के विभिन्न तालाबों छठ श्रद्धालुओं भीड़ उमड़ती दिखाई दी| इस दौरान नालासोपारा, वसई और विरार आदि तालाबों पर छठपूजा पर्व को धूमधाम से संपन्न किया गया| इस दरम्यान क्षेत्र में स्थानीय संगठनों व संस्थाओं तथा सत्ता पक्ष की ओर से सांस्कृतिक कर्यक्रमों का भी आयोजन किया गया|
ज्ञात हो कि पूर्व के अचोले तालाब,मोरेगांव तालाब और नागेला तालाब पर डॉ. ओमप्रकाश दुबे के मार्गदर्शन में उक्त समिति ने सूर्यास्त के समय और सभी भाई बहन और माताओ ने पारंपरिक रीतरिवाज से छठपूजा करके सूर्य भगवान को अर्ध्य दिया। तीनो तालाबों को मिलाकर 60 से 70 हजार भक्तो ने छठमैया एवं सूर्यदेवता की पूजा की। वही दूसरी ओर छठपूजा को लेकर विवादों घिरा रहने वाला विरार पूर्व के तालाब पर सुरक्षा व्यवस्था को लेकर कड़ी बंदोबस्त की गयी थी| गौरतलब है कि विरार पूर्व में छठपर्व को मनाने वालों की एक बड़ी संख्या है| और शुरू से उनके द्वारा पापडखिंड तालाब में सूर्यको अर्घ्य देकर छठ पूजा करने की परंपरा चली आ रही है| इस बार भी मनपा और स्थानीय लोगों के तीव्र विरोध के बाद लोगों द्वारा अपनी परंपरा के अनुसार तालाब पर पूजा अर्चना की गयी| स्थानीय लोगों द्वारा उक्त तालाब पर पानी दूषित होने के कारण छठपूजा का पर्व नहीं करना देना चाहते थे| स्थानीय लोगों के साथ मनपा भी छठव्रतियों को पापडखिंड तालाब पर छठपूजा मनाने नहीं देना चाहती थी| उक्त बांध से विरार शहर को प्रतिदिन १० लाख लीटर पानी सप्लाई की जाती है| इतने बड़े पैमाने पर शहर में पानी सप्लाई के बावजूद भी मनपा द्वारा बांध की किसी तरह की कोई सुरक्षा नहीं की गयी है| बांध में स्थानीय नागरिकों द्वारा कपड़े और गाड़ियां साफ की जाती हैं| कचरा और धार्मिक कार्यक्रम के बाद बचे अवशेषों को भी पापडखिंड बांध में छोड़ा जाता है| प्रतिबंध के बावजूद भी छठ पूजा के अवसर पर हजारों पुरुष और महिलाओं द्वारा सूर्य को अर्घ्य देने के लिए बांध के पानी में उतरते है, जिसके कारण बांध का पानी दूषित होता है|
Share

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here