दस महीने बाद भी नहीं पूरा किया वादा, BEST समिति में हंगामा

0
3
दस महीने बाद भी नहीं पूरा किया वादा, BEST समिति में हंगामा
Share

BEST को BMC से मिले 916 करोड़, फिर भी कर्मचारियों को बोनस नहीं

– NDI24 नेटवर्क

मुंबई. बेस्ट की खराब आर्थिक हालत सुधारने के लिए बीएमसी मदद दे रही है। अब तक बेस्ट को मनपा 916 करोड़ रुपए दे चुकी है। मनपा की तरफ से पैसे मिलने और बेस्ट समिति की मंजूरी मिलने के बाद भी अब तक प्रशासन ने कर्मचारियों को बोनस नहीं दिया है। शुक्रवार को हुई बेस्ट समिति की बैठक में भाजपा के सुनील गणाचार्य ने कहा कि बेस्ट महाप्रबंधक सुरेंद्र कुमार बागड़े ने 2018 में जो दिवाली बोनस घोषित किया था, वह 10 महीने बाद भी कर्मचारियों को नहीं मिला है। कर्मचारियों के प्रति सहानुभूति और बेस्ट प्रशासन के प्रति नाराजगी जताते हुए भाजपा  ने बैठक रद्द करने की मांग की।

विदित हो कि पिछले साल बेस्ट समिति में बोनस को लेकर कई बार चर्चा हुई थी। एक नवंबर, 2018 तक खराब आर्थिक स्थिति का हवाला देकर बोनस को टाला जा रहा था। परंतु, 2019 में अब तक बीएमसी अपनी तरफ से बेस्ट को 1200 करोड़ रुपए में से 916 करोड़ रुपए बेस्ट उपक्रम को दे चुकी है। बावजूद इसके बेस्ट महाप्रबंधक ने कर्मचारियों को बोनस का पैसा नहीं दिया। गणाचार्य ने कहा कि पिछली दिवाली का बोनस कर्मचारियों को मिल जाए तो वे गणेशोत्सव अच्छे से मना सकते हैं।

समिति अध्यक्ष का भी समर्थन अनिल कोकिल ने कहा कि बेस्ट समिति में किसी भी प्रस्ताव का विरोध होने पर महाप्रबंधक यूडी के पास जाकर मंजूर कराते हैं। अगर महाप्रबंधक चाहें तो बोनस का प्रस्ताव भी मंजूर करा लें। पर, लगता है कि वे जानबूझ कर मामले को टाल रहे हैं। बेस्ट समिति के अध्यक्ष अनिल पाटणकर ने कहा कि गणाचार्य की बातें उचित हैं। इसलिए हम विरोध में सभा रद्द करते हैं।

मोबाइल पर जानकारी यात्रियों को बसों की जानकारी मोबाइल पर मुहैया कराने के लिए बेस्ट प्रशासन जल्द ही मोबाइल ऐप शुरू करने वाला है। लोग अपने मोबाइल पर बेस्ट का ऐप डाउन लोड कर सकते हैं। ऐप से जानकारी मिलेगी कि अभी बस कहां है या आपके स्टॉप पर बस कब तक पहुंचेगी।

Share