100 से ज्यादा प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने हिरासत में लिया

0
3
100 से ज्यादा प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने हिरासत में लिया
Share

वसई में बालयोगी श्री सदानंद आश्रम तोड़ने का विरोध

– NDI24 नेटवर्क

वसई. बालयोगी श्री सदानंद महाराज आश्रम पर सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर जारी तोड़क कार्रवाई के विरोध में शुक्रवार को ठाणे और पालघर जिले में जम कर विरोध किया गया। मनोर से वाडा भिवंडी रोड की तरह मोड़ दिया। ठाणे पुलिस की ओर से आश्रम के आसपास भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। कई प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने धारा 144 के उल्लंघन के आरोप में हिरासत में लिया। आश्रम के समर्थन में वसई तालुका की अधिकांश दुकाने बंद रखी गईं। सदानंद महाराज के अनुयायियों ने वेस्टर्न एक्सप्रेस हाईवे और घोड़बंदर रोड पर प्रदर्शन किया। तोड़क कार्रवाई के विरोध में आश्रम के समर्थक कई जगहों पर सड़क पर बैठ गए। प्रदर्शन के दौरान हाइवे पर घंटों यातायात बाधित रहा और कई किमी लंबा जाम लग गया। एहतियातन पुलिस ने महामार्ग के वाहनों को वहीं वसई तालुका के जूचंद्र गांव, नायगांव, कामण, सतिवली, धानीव बाग, नालासोपारा पूर्व सहित विरार के कई स्थानों पर लोगों ने दुकाने बंद रखीं और सड़कों पर विरोध प्रदर्शन किया। पुलिस ने तोड़क कार्रवाई के विरोध में प्रदर्शन कर रहे 100 से ज्यादा लोगों को हिरासत में लिया।

सुप्रीम कोर्ट से राहत

तोड़क कार्रवाई रोकने के लिए सुप्रीम कोर्ट में पूर्व राज्यपाल राम नाईक ने एक याचिका लगाई थी, जिसकी सुनवाई जस्टिस अरुण मिश्रा और जस्टिस दीपक गुप्ता की खंडपीठ के समक्ष शुक्रवार को हुई। शीर्ष अदालत ने सदानंद महाराज के पिता बैजनाथ महाराज और पार्वती माता की समाधि स्थल, मुख्य मंदिर और महाराज के निवास स्थान को सुरक्षित रखने का आदेश दिया है। साथ ही आश्रम से जुड़े फोटो और दस्तावेजों को छह सितंबर तक सुप्रीम कोर्ट  में जमा करने का आदेश मुख्य सचिव को दिया है।

पुलिस ने किया लाठीचार्ज…

शुक्रवार सुबह बालयोगी श्री सदानंद महाराज के सैकड़ों अनुयायी सड़कों और हाइवे पर उतर कर तोड़क कार्रवाई रोकने की मांग करने लगे। साथ ही बड़ी संख्या में पहाड़ी और खेतों के रास्ते से होते हुए मंदिर की तरफ बढऩे लगे।   मंदिर की तरफ लोगों को जाने से रोकने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज किया, जिसमें कई लोग जख्मी हुए हैं।

हाथ में न लें कानून…

पालघर के पुलिस अधीक्षक गौरव सिंह ने कहा कि वन विभाग की ओर से की जा रही तोड़क कार्रवाई के दौरान कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए पर्याप्त पुलिस बल तैनात किए गए हैं। उन्होंने आश्रम अनुयायियों से अनुरोध किया कि वे शांति बनाए रखें।

Share