गांव समृद्ध होने पर ही राज्य समृद्ध होता है, विपणन मंत्री सुभाष देशमुख ने सभा मे कहा…

0
283
महासंघ को सूचना तकनीक से जोड़कर अधिक सक्षम बनाने की जरूरत
गांव समृद्ध होने पर ही राज्य समृद्ध होता है
Share

महासंघ को सूचना तकनीक से जोड़कर अधिक सक्षम बनाने की जरूरत

– NDI24 नेटवर्क
मुंबई. खरीदी बिक्री संघ एवं पणन संस्थाओं की शिखर संस्थाओं में से एक महाराष्ट्र राज्य सहकारी पणन महासंघ के समर्थन मूल्य से अनाज़ (भरड धान्य) और धान की बड़े पैमाने पर खरीदी होती है। गांव समृद्ध होने पर ही राज्य समृद्ध होता है। इसलिए ग्रामीण परिसर के विकास की ओर अधिक ध्यान देकर महासंघ ने कार्य करना चाहिए। राज्य की उन्नति के लिए पणन महासंघ को सूचना तकनीक के साथ जोड़कर उसे अधिक सक्षम करने की आवश्यकता है। ये बातें महाराष्ट्र के विपणन मंत्री सुभाष देशमुख ने यशवंतराव चव्हाण प्रतिष्ठान में महाराष्ट्र राज्य सहकारी पणन महासंघ के अधिमंडल की 60वीं वार्षिक सभा में कहीं। इस दौरान विपणन राज्य मंत्री सदाभाऊ खोत, महाराष्ट्र राज्य सहकारी पणन महासंघ के व्यवस्थापकीय संचालक डॉ. योगेश म्हसे समेत महासंघ के पदाधिकारी उपस्थित रहे।

वेबसाइट पर उपलब्ध है सारी जानकारी…

देशमुख ने आगे कहा कि राज्य में अनाज का बड़े पैमाने पर उत्पादन होता है। इसके लिए महाराष्ट्र के नाम से ब्रांड विकसित होने की आवश्यकता है और हिदायत देते हुए उन्होंने आगे कहा कि किसानों को केंद्र स्थान पर रखकर खरीदी बिक्री संघ को कार्य करना चाहिए। विविध कार्यकारी संस्थाओं ने किसानों को सभासद बनाना चाहिए। इस दौरान म्हसे ने कहा कि इस साल फेडरेशन ने किसानों के उत्पादन को अच्छा दर मिल सके, इसके लिए कृषि  उपज बाजार समितियों में प्रायोगिक स्तर पर क्लीनिंग एवं ग्रेडींग मशीनें उपलब्ध कराने का निर्णय लिया है। साथ ही www.mahamarkfed.org यह वेबसाइट बनाई है और फेडरेशन की ओर से चलाये जा रहे विविध उपक्रमों के संदर्भ में इस वेबसाइट पर जानकारी उपलब्ध होगी।

Share