‘Flat 211’ का जोर-शोर से म्यूजिकल प्रमोशन

0
557
'BARREL The Gastrobar' में साथ नजर आए फिल्म के महारथी
'फ्लैट 211Ó का जोर-शोर से म्यूजिकल प्रमोशन
Share

‘BARREL The Gastrobar’ में साथ नजर आए फिल्म के महारथी

मुंबई. अज्हा ग्लोबल एंटरटेनमेंट बैनर तले निर्मित बॉलीवुड की अपकमिंग थ्रिलर फिल्म ‘फ्लैट 211’ के ट्रेलर की हर ओर काफी सराहना की जा रही है और अब इस फिल्म का प्रमोशन भी जोरों पर है। हाल ही में मुंबई में इस फिल्म का एक म्यूजिकल प्रमोशन किया गया, जिसके लिए फिल्म के मुख्य गायक मोहम्मद इरफान, दिव्या कुमार, म्यूजिक कंपोजर प्रकाश प्रभाकर और निर्माता-निर्देशक सुनील संजन एक साथ मीडिया से रू-ब-रू हुए। फिल्म के सभी गाने भी काफी पॉपुलर हो चुके हैं, जिनमें से एक सुरों के सरताज मीका सिंह ने ‘क्रिमिनल अंखिया…] गाया है। इसके अलावा ‘दर्द दिलों के कम हो जाते’ से अपनी पहचान बना चुके सिंगर मोहम्मद इरफान ने ‘तेरे लम्स ने…’ को अपनी आवाज दी है। साथ ही गायक दिव्य कुमार ने ‘एक दिन चलेगी साली…’ को अपनी मन-मोहक आवाज में सजाया है। बता दें कि फिल्म के सभी गानों को प्रकाश प्रभाकर ने कंपोज किया है। यह फिल्म एक मर्डर मिस्ट्री के आसपास घूमती है, जिसके निर्माता-निर्देशक सुनील संजन हैं। फिल्म में राज और सोनल सिंह के साथ समोनिका श्रीवास्तव और दिग्विजय सिंह मुख्य भूमिकाओं में हैं। ‘फ्लैट 211’ 2 जून 2017 को रिलीज होगी।

एआर रहमान कर रहे सराहनीय काम : प्रकाश प्रभाकर

नवाजुद्दीन सिद्दीकी के स्ट्रगल के दिनों में साथ रहे संगीतकार प्रकाश प्रभाकर ने उनके साथ एक शॉर्ट फिल्म ‘सफर’ की। कॉलेज में लेक्चरर के पद पर तैनात प्रकाश का बैकग्राउंड भी सिगीतज्ञ रहा है। फिर अपने सपने को साकार करने के लिए वे अपनी जमी-जमाई नौकरी छोड़कर सीधे मुंबई आ गए। यहां कुछ टीवी सीरियल्स में काम करने के बाद प्रकाश अब पूरी तरह से इंडस्ट्री में रम्भ चुके हैं। तो चलिए आज हम आपको बताते हैं म्यूजिशियन प्रकाश की कहानी खुद उन्हीं की जुबानी-

ज्यादा काम करने की मची होड़

प्रकाश आज के संगीत के बारे में बताते हुए कहते हैं, ‘पहले की तुलना में आज लोग रिजल्ट्स की ओर ज्यादा भाग रहे हैं, यानी काम होते ही सभी को एस्पेक्टेशन होता है कि उनका काम कहां तक सफल रहा। इसके विपरीत आज लोगों के पास समय कम है और टेक्नोलॉजी के चलते लोग ज्यादा से ज्यादा काम करने की होड़ में रहते हैं।’

मिथुन शर्मा कर रहे हैं अच्छा काम

बदलते युग और गानों की रीच के बारे में प्रकाश बताते हैं कि एआर रहमान ने जब से म्यूजिक इंडस्ट्री में कदम रखा है है, तब से उन्होंने कम्पोजीशन ही बदल दिया है कि फ्लूट कैसे बजना चाहिए…। इस तरह से वे इंडस्ट्री में एक सराहनीय काम कर रहे हैं। इसके अलावा मिथुन शर्मा को लेकर वे कहते हैं कि उन्होंने ‘आशिकी’, ‘बारिश’ जैसी फिल्मों में संगीत दिया, जो सराहनीय रहा। इस तरह से आज लोग सोलफुल म्यूजिक की तरफ आकर्षित हो रहे हैं।

आज के समय में रियाज बहुत जरूरी

वहीं दूसरी तरफ प्रकाश टेक्नोलॉजी के चलते फिल्टर की हुई आवाज को लेकर कहते हैं, ‘आज लोग रियाज पर इतना ध्यान नही देते। थोड़ी भी आवाज अच्छी होती है तो वे तकनीकी के सहारे आगे बढ़ जाते हैं, लेकिन ऐसे लोग कुछ समय के लिए तो सफल हो जाते हैं, पर वे लोग लंबी रेस के घोड़े नहीं होते…। सुनें कुछ बोल…

आईटी पेशे से निर्माता-निर्देशक तक का सफर

पेशे से आईटी सेक्टर में जॉब करने वाले निर्माता-निर्देशक सुनील संजन अपने बारे में बताते हैं, ‘उनकी यह लाइफ बहुत कॉम्प्लीकेटेड रही है। वे जॉब करने के साथ ही फिल्म बनाने में भी व्यस्त रहे और अपनी जॉब की सेलरी से बचे रुपयों से ही उन्होंने फिल्म का निर्माण कार्य और निर्देशन की भागडोर संभाली है। मैं दुबई में काम करता था और मिडिल ईस्ट, नॉर्थ अफ्रीका, गोल्फ कंट्रीज समेत करीब 17 देशों के काम करता था। इस तरह से महीने में 7 दिन तो ट्रेवलिंग में ही गुजर जाया करते थे।’ बहरहाल, इंडस्ट्री में आने को लेकर वे कहते हैं कि दोस्तों के कहने पर उन्होंने एक मॉडलिंग का ऑडिशन दिया तो वे सिलेक्ट हो गए। बस वहीं से इंडस्ट्री में आने का उन पर जुनून सवार हो गया और फिर वे पुणे से मुंबई आने-जाने लगे। इस दौरान सुनील ने एक से दो ऐड फिल्में भी कीं।

संजन ने दुबई से सीखी फिल्म मेकिंग

फिर दुबई में जॉब के साथ ही उन्होंने फिल्म मेकिंग का कोर्स किया और अपना खुद का प्रोडक्शन हाउस खोलने की ठान ली। फिल्म मेकिंग सीखने के बाद सुनील ने एक शॉर्ट फिल्म ‘प्रॉमिस’ बनाई, जो ऑल ओवर वल्र्ड में करीब 13 फिल्म फेस्टिवल्स में चुनी गई। बस, यहीं से उनमें कुछ और भी ज्यादा करने की जुनूनियत सवार हुई। फिल्म के टाइटल के बारे में पूछने पर वे बताते हैं कि यह उनके दुबई का फ्लैट नं. है और इसमें एक मर्डर मिस्ट्री की कहानी है, जिसे देखना बहुत ही दिलचस्प होने वाला है। इस तरह से सुनील संजन ने अपने करियर के कई दिलचस्प किस्से सुनाए, देखें वीडियो…

दिव्य कुमार और मो. इरफान की आवाज़

सिंगर दिव्य कुमार ने बताया कि उनके पास पहले गाना है, जो उन्हें बहुत अच्छा लगा और एक रॉक म्यूजिक के साथ गीत गाना उनके लिए भी यादगार रहा। दिव्य कुमार ने ‘फ्लैट 211’ में ‘एक दिन चलेगी साली…’ गाना गाया है। इनके अलावा मोहम्मद इरफान ने ‘तेरे लम्स ने…’ को गाने की कमान संभाली है। तो चलिए जानते हैं इंडस्ट्री के इन फेमस सिंगर्स की कहानी, देखें वीडियो…

Share

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here