Mission education : धर्म के बिना विज्ञान अँधा है और विज्ञान के बिना धर्म लंगड़ा : मुसाफिरानंद

0
171
Mission education : धर्म के बिना विज्ञान अँधा है और विज्ञान के बिना धर्म लंगड़ा : मुसाफिरानंद
Share
– NDI24 नेटवर्क
वसई. मानव उत्थान सेवा समिति, मानव धर्म के प्रेरणार्थक सदगुरुदेव श्री सतपालजी महाराज की ओर से सामाजिक कार्य ‘मिशन एज्युकेशन’ चलाया जा रहा है| इसके अंतर्गत गुरुवार 20 दिसम्बर 2018 को “यश विद्या निकेतन इंग्लिश हाई स्कूल विरार पूर्व में ट्रेजर बॉक्स लगाया गया| मिशन एज्युकेशन के तहत स्कूल के सभी छात्रों को मिशन के उद्देश्य से अवगत कराया गया| इस दरम्यान मिशन एज्युकेशन की टीम ने उन्हें जरूरतमंद बच्चों के लिए आवश्यक शिक्षा सामग्री जैसे नोटबुक,पेन, पेंसिल, इत्यादि डोनेट करने का आह्वान भी किया है| टीम ने स्कूल के बच्चों में इसकी उपयोगिता पर प्रकाश डाला और कहा कि जरूरत मंद बच्चों को आगे की पढ़ाई में सहायता मिलने की बात कही गयी। समिति की ओर से वर्ष 2016 से मिशन एज्युकेशन का कार्य किया जा रहा हैं | अब तक करीब 4 लाख बच्चों को इसके तहत लाभान्वित किया जा चुका है । आश्रम के प्रभारी महात्मा मुसाफिरनंद ने विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि जीवन में भौतिक विद्या के साथ-साथ आध्यात्मिक विद्या का होना आवश्यक है| उन्होंने कहा की जिस प्रकार अगर हमारा एक पैर छोटा और एक पैर बड़ा रहेगा तो हम ठीक से चल नहीं पाएंगे| महात्मा ने इस बीच उदाहरण देते हुए कहा कि अल्बर्ट आइंस्टीन ने कहा है कि धर्म के बिना विज्ञान अँधा है और विज्ञान के बिना धर्म लंगड़ा होता है। इन दोनों के समन्यवयन से इंसान जीवन के लक्ष्य को प्राप्त कर सकता है । कॉलेज की मुख्य प्राध्यापिका रुचिता ठाकुर और अवनी मैडम का कार्यक्रम को सफल बनाने में सराहनीय योगदान दिया गया|

Share