नाबालिग छेड़छाड़ और बलात्कार : कोर्ट ने सुनाई सजा 

0
18
3 वर्ष का सश्रम कारावास और हजारों का जुर्माना
नाबालिग छेड़छाड़ और बलात्कार : कोर्ट ने सुनाई सजा
Share

3 वर्ष का सश्रम कारावास और हजारों का जुर्माना

– NDI24 नेटवर्क
विरार. नाबालिग छेड़छाड़ और बलात्कार मामले में वसई सत्र न्यायालय द्वारा अहम् फैसला सुनाया गया| उक्त फैसले में कोर्ट ने आरोपी को 3 वर्ष का सश्रम की कारावास और 5 हजार रूपये दंड के रूप में जुर्माना की लगाया है| कोर्ट के इस फैसले से एक ओर जहां पीड़ित को न्याय मिला है वही सामाजिक स्तर पर ऐसी घटनाओ में कमी आने का भी अनुमान लगाया जा रहा है|ज्ञात हो कि विरार पश्चिम में  राजू संतोष सूर्यवंशी (44) रहता है| वर्ष 2014 में सूर्यवंशी पर  भादंसं की धारा 354,376,511 और सह लैंगिक बाल संरक्षण 7,8 के तहत मामला दर्ज किया गया था। पुलिस के अनुसार पीड़िता व राजू एक ही बिल्डिंग में रहते है। परिजन ने 2014 में विरार पुलिस स्टेशन में आरोपी राजू के खिलाफ शिकायत दर्ज किया था। पुलिस ने धारा 354 व सह लैंगिक बाल संरक्षण 7,8 के तहत मामला दर्ज किया था। संबधित मामले की जांच महिला पुलिस उपनिरीक्षक अनित भगत कर रही थी। मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस उपनिरीक्षक भगत ने आरोपी राजू के खिलाफ पुख्ता सबूत पेश किया| जांच के बाद पुलिस ने उक्त मामले में धारा 376 और 511 का भी मामला राजू पर लगाया। महिला पुलिस उपनिरीक्षक द्वारा आरोपी के खिलाफ कोर्ट में मजबूत सबूत पेश किया गया। मामले में सुनवाई के दरम्यान गवाहों और वकीलों के  बयानों के मद्देनजर कोर्ट के न्यायाधीश ने छेड़छाड़ और बलात्कार मामले में राजू को दोषी पाया| और उसे 3 वर्ष की सजा के साथ ही 5 हजार रूपये के दंड के साथ जुर्माना भी लगाया है|
Share

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here