मात्र 6 घंटे में अर्नाला पुलिस को मिली सफलता

0
179
मात्र 6 घंटे में अर्नाला पुलिस को मिली सफलता
Share

हत्या मामले में आरोपी गिरफ्तार, दोस्त ही निकला हत्यारा सबूत मिटाने के लिए टुकड़े-टुकड़े कर चेंबर में डाला शव

– NDI24 नेटवर्क 
विरार. अर्नाला पुलिस स्टेशन अंतर्गत संडास के ड्रेनेज चेंबर मिली शव को मात्र 6 घंटे में हल करने में पुलिस सफलता मिली है| मामले की छानबीन करने वाली टीम को हत्या मामले में आरोपी को गिरफ्तार किया गया है| पुलिस के अनुसार हत्या की घटना को दोस्त द्वारा ही अंजाम दिया गया था | और सबूत मिटाने के लिए टुकड़े-टुकड़े कर चेंबर में शव को डाला दिया था| अर्नाला पुलिस ने  भादंसं की धारा 302 , 201 के तहत मामला दर्ज किया गया है| मामले की छानबीन पुलिस कर रही है|

सबूत मिटाने का मामला दर्ज हुआ

ज्ञात हो कि विरार पश्चिम स्थित बछराज पैराडाइज कॉ.हॉ. सोसायटी सी विंग के बने संडास के ड्रैनेज के चेंबर में व्यक्ति का शव के टुकड़े मिलने की सूचना अर्नाला पुलिस को दी गयी| सूचना मिलते ही पुलिस घटनास्थल पर पहुंचकर आसपास क्षेत्र में छानबीन के बाद मृतक शव के 3 टुकड़े पाए गए| पुलिस ने कमलजीत सिंह चंदनपाल सिंह की शिकायत पर अज्ञात हत्यारे के खिलाफ हत्या और शव को टुकड़े-टुकड़े कर सबूत मिटाने का मामला दर्ज किया है| नृशंस हत्या मामले की छानबीन के लिए उपविभागीय पुलिस अधिकारी, विरार के जयंत बजबले के मार्गदर्शन में पुलिस निरीक्षक सुनील माने, पुलिस निरीक्षक घनश्याम आढाव, सहायक फौजदार पवार, सांगले पुलिस हवलदार पवार, लोणकर, वलवी, पुलिस नाईक  मंदार दलवी, मुकेश पवार पुलिस नाईक अनिल शिंदे, शंकर शिंदे, शशी पाटिल और भूषण पाटिल आदि अर्नाला तथा विरार पुलिस स्टेशन के अधिकारी और कर्मचारी की एक टीम गठित की गयी| गठित टीम को बछराज पैराडाइज कॉ.हॉ. सोसायटी सी विंग के फ़्लैट नं. 602 से पुलिस को दुर्गंध रही थी| छानबीन में  पुलिस फ़्लैट भाड़े पर दिए जाने की बात सामने आयी|  फ़्लैट के किरायेदार को हिरासत में लेकर पुलिस ने पूछताछ करनी शुरू की | शुरू में आरोपी द्वारा पुलिस को उत्तर देने से बचने की कोशिश की गयी, लेकिन बाद में उसके द्वारा दिल दहला देने वाली घटना जानकारी दी गयी| पुलिस के अनुसार आरोपी और मृतक गणेश कोलटकर की 6 माह पहले एक दूसरे से पहचान हुई थी| आरोपी द्वारा दोस्त गणेश कोलटकर से 1 लाख रूपये बतौर कर्ज के रूप में लिया गया था, जिसमें 40 हजार आरोपी की ओर से वापस किया गया था| और 60 हजार रुपये देना बाकि था|  16 जनवरी 2019 को आरोपी ने अपने दोस्त को बछराज पैराडाइज कॉ.हॉ. सोसायटी सी विंग के फ़्लैट नं. 602 में ले आया| इसके बाद उसने गणेश काटकर से कहा कि मैं शादी करना चाहता हूँ| इस पर काटकर ने कहा कि तुम्हारी उम्र जा चुकी है शादी कैसे करोगे| कोई दूसरी बात सोचो कहते, गुस्सा होकर जाने लगा| इसी बीच आरोपी ने अपने दोस्त काटकर को धक्का दिया| और वह पेट की ओर निचे गिर गया| आरोपी ने काटकर को उठाने की कोशिश की, लेकिन तब तक उसकी मृत्यु हो चुकी थी| गणेश काटकर की आकस्मिक मौत से वह घबरा गया| और शव को हेक्सा ब्लेड से कान, हाथ के टुकड़े-टुकड़े कर टॉयलेट में फेंककर पानी से बहा दिया| और अपने घर सांताक्रुज निकल गया| 17 को दोबारा विरार स्थित बछराज पैराडाइज कॉ.हॉ. सोसायटी सी विंग के फ़्लैट नं. 602 में आया| मृतक गणेश की हड्डी और अस्थि पंजर को टुकड़े-टुकड़े कर प्लस्टिक की थैली भरकर फेंक दिया| पुलिस के अनुसार आरोपी पर वालिव पुलिस स्टेशन में भी भादंसं की धारा 365,363,34 के तहत पहले से ही मामला दर्ज है| गिरफ्तार होने के पहले आरोपी द्वारा मृतक गणेश की 16 जनवरी 2019 को मीरा रोड स्थित नयानगर पुलिस स्टेशन में लापता होने की शिकायत दर्ज कराई गयी थी| अर्नाला पुलिस ने उक्त मामले की छानबीन कर हत्यारे को गिरफ्तार करने सफलता पायी है|

Share