प्रज्ञा ठाकुर जैसे विवादित लोगों को उम्मीदवारी दे रही भाजपा, सपा महाराष्ट्र प्रदेशाध्यक्ष का पीएम मोदी पर हमला…

0
54
देश के 130 करोड़ आवाम को सोचना होगा, मोदी राज में आरोपी लेंगे संविधान की शपथ
प्रज्ञा ठाकुर जैसे विवादित लोगों को उम्मीदवारी दे रही भाजपा
Share


देश के 130 करोड़ आवाम को सोचना होगा, मोदी राज में आरोपी लेंगे संविधान की शपथ

– NDI24 नेटवर्क

मुंबई. देश से आतंकवाद को समाप्त करने के लिए दुनिया की ताकतों को एक साथ आने की जरूरत है, जो आतंकवाद का समर्थन करते हैं, उन्हें अलग-थलग कर देना चाहिए। वहीं श्रीलंका में हुए आतंकी हमले की कड़ी निंदा करते हुए समाजवादी पार्टी के महाराष्ट्र अध्यक्ष अबू आसिम आजमी ने बुधवार को भाजपा-कांग्रेस पर जमकर निशाना साधते हुए कहा कि आतंकवाद का किसी धर्म या मजहब से संबध नहीं है। इसे किसी धर्म से जोड़कर देखना भी न्यायोचित नहीं है। वहीं साध्वी प्रज्ञा ठाकुर पर भाजपा की ओर से दी गई उम्मीदवारी हर हमला करते हुए आजमी ने कहा कि बेल पर बाहर आई आरोपी बाबरी मस्जिद को तोड़ना सही था। इस तरह के विवादित बयान देने वाले को भाजपा टिकट दे रहे है। आजमी ने चुनाव आयोग से मांग की है कि प्रज्ञा सिंह ठाकुर के चुनाव लड़ने पर तत्काल रोक लगाई जाए। उन्होंने कहा कि जब पीएम नरेंद्र मोदी को लगा कि विकास जैसे मुद्दों पर उनको वोट नहीं मिलेगा तो उन्होंने प्रज्ञा जैसे विवादित लोगों को टिकट दे थमा दिया है। यही लोग चुनाव जीतने के बाद संविधान की शपथ लेंगे। इसलिए अब देश के 130 करोड़ आवाम को सोचना होगा।

पीएम मोदी को माफी मांगी चाहिए, एससी के फैसले का स्वागत…

सपा प्रदेशाध्यक्ष ने 2002 के दंगों की याद में सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत करते हुए हुए कहा कि एससी ने दंगों के दौरान सामूहिक बलात्कार का शिकार हुई बिलकिस बानो को 50 लाख रुपये बतौर मुआवजा, नौकरी और आवास देने का फरमान सुनाया है। हिंसक भीड़ ने अहमदाबाद के पास गर्भवती बिलकिस बानों के साथ सामूहिक बलात्कार किया था और उसके परिवार के 7 सदस्यों की हत्या कर दी थी। वहीं आजमी ने मांग की कि पीएम मोदी को माफी मांगना चाहिए, क्योंकि नरेंद्र मोदी के मुख्यमंत्री कार्यकाल में बिलकिस बानो पर अत्याचार हुआ था और उसे गुजरात में न्याय नहीं मिला। यह शर्म की बात है, उसे राज्य में इंसाफ नहीं मिला। आखिरकार उसे सुप्रीम कोर्ट जाना पड़ा, तब जाकर उसे इंसाफ मिला है। 

गंगा-जमुनी तहजीब बचाने के लिए किया गठबंधन : आजमी…

वहीं मुंबई दंगे की याद दिलाते हुए आजमी ने कहा कि दंगों की जांच के लिए श्रीकृष्णा आयोग बनाया गया। आयोग ने अपनी रिपोर्ट सौंपी, लेकिन उस पर अब तक कार्रवाई नहीं हुई। इसके लिए तत्कालीन कांग्रेस सरकार पर हमला करते हुए आजमी ने कहा कि अभी भी कई सारे ऐसे केस पेंडिंग हैं, फैसला आना बाकी है। कांग्रेस खुद को सेकुलर बोलती है ,लेकिन ऐसा नहीं है। वहीं चुनाव के दौरान पीएम मोदी की ओर से दिए जा रहे इंटरव्यूज पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा कि अगर उनमें हिम्मत है तो एनडीटीवी के पत्रकार रवीश कुमार और विनोद दुआ को एक बार इंटरव्यू देकर दिखाएं। वहीं लोकसभा चुनाव पर बोलते हुए आजमी ने कहा कि परास्त करने के लिए हमने काफी प्रयास किया कि कांग्रेस से गठबंधन हो जाए ,लेकिन कांग्रेस के रवैये से ऐसा नहीं हो पाया। आखिरकार सपा ने बसपा के साथ गठबंधन किया और  मुंबई, भिवंडी समेत महाराष्ट्र में चार उम्मीदवार सपा ने उतारे हैं। भाजपा-कांग्रेस को एक ही सिक्के के दो पहलू बताते हुए वे आगे विधानसभा चुनाव में भी गठबंधन करके चुनाव लड़ेंगे। हम चाहते हैं कि गंगा-जमुनी तहजीब को बचाया जा सके, जिसकी वजह से हमने गठबंधन किया है।

Share