बाबरी मस्जिद विध्वंस की जिम्मेदारी बालासाहेब ठाकरे ने ली थी : शिवसेना

0
280
'नहीं बना राम मंदिर तो जनता सत्ता से कर देगी बेदखल'
बाबरी मस्जिद विध्वंस की जिम्मेदारी बालासाहेब ठाकरे ने ली थी : शिवसेना
Share

‘नहीं बना राम मंदिर तो जनता सत्ता से कर देगी बेदखल’

– NDI24 नेटवर्क
मुंबई. केंद्र सरकार की सहयोगी पार्टी शिवसेना ने आज एक बार फिर बीजेपी पर हमला बोला है। शिवसेना ने अपने मुखपत्र के माध्यम से राम मंदिर मामले में झूठा करार दिया। उनसे मंगलवार को कहा कि अगर अयोध्या में राम मंदिर नहीं बनता है तो बीजेपी को ‘झूठी’ कहा जाएगा और उसे सत्ता से बेदखल कर दिया जाएगा। बीजेपी के लिए भगवान राम तो ‘अच्छे दिन’ लेकर आए, लेकिन पार्टी मंदिर बनवाने का अपना वादा पूरा नहीं कर सकी। बीजेपी केंद्र समेत कई राज्यों में सत्ता में है और बीजेपी यह आसानी से राम मंदिर का निर्माण कर सकती है। मुखपत्र सामना में आगे कहा कि मुख्य पुजारी ने हाल ही में कहा कि पीएम मोदी केवल जय श्रीराम के नारे देते हैं, लेकिन मंदिर निर्माण के लिए एक भी शब्द नहीं बोलते। वहीं दूसरी तरफ संपादकीय में कहा गया है कि यूपी में चुनाव के दौरान ऐसा माहौल था कि मानो अगर बीजेपी की सत्ता आई तो आसानी से राम मंदिर का निर्माण हो जाएगा, लेकिन सत्तारूढ़ पार्टी ने इसके लिए आवाज उठाने वालों को ही परेशान करना शुरू कर दिया।

शिवसेना ने मुखपत्र से निकली भड़ास…

शिवसेना के मुखपत्र सामना के संपादकीय में कहा गया कि अदालत की ओर संकेत करना स्थिति से मुंह मोडऩे जैसा है। देश भर में मंदिर के निर्माण के लिए प्रदर्शन अदालत से अनुमति लेने के बाद शुरू नहीं हुए थे। इसमें कहा गया है कि केंद्र जब तीन तलाक और अनुसूचित जाति और जनजाति (अत्याचार निरोधक) कानून पर अदालत के आदेशों को दरकिनार कर अध्यादेश जारी कर सकता है तो वह राम मंदिर निर्माण और समान नागरिक संहिता लागू करने के लिए अध्यादेश क्यों जारी नहीं कर सकता। बाबरी मस्जिद को शिवसेना कार्यकर्ताओं ने गिराया था। यहां तक कि शिवसेना प्रमुख बालासाहेब ठाकरे ने तो इसकी जिम्मेदारी भी ली थी। अब आपकी (बीजेपी की) सरकार सत्ता में है, फिर ऐसा क्यों नहीं हो पा रहा।

Share