जलाशयों में जमा हुआ 96 % पानी

0
8
पिछले तीन साल के मुकाबले सातों तालाबों में सबसे ज्यादा पानी
जलाशयों में जमा हुआ 96 % पानी
Share

पिछले तीन साल के मुकाबले सातों तालाबों में सबसे ज्यादा पानी

– NDI24 नेटवर्क

मुंबई. पिछले साल पानी के लिए परेशान मुंबईकरों की एक साल की चिंता दूर हो गई है। महानगर की प्यास बुझाने वाले सातों तालाबों में अगले मानसून तक के लिए पर्याप्त पानी जमा हो चुका है। कहने में हर्ज नहीं कि एक साल के लिए पेयजल की चिंता दूर हो गई है। खास यह कि पिछले तीन साल के मुकाबले इस वर्ष तालाबों में रिकार्ड पानी जमा हो चुका है। तालाब क्षेत्रों में अब भी अच्छी बारिश हो रही है। उल्लेखनीय है कि मानसून इस साल देर से जरूर आया, मगर तालाब क्षेत्रों में झमाझम बारिश हुई है।

बीएमसी के जल विभाग से मिली जानकारी के अनुसार 23 अगस्त को सातों तालाबों में कुल 95.69 प्रतिशत पानी जमा हुआ है। तालाबों में जमा पानी पिछले तीन वर्ष की तुलना में सबसे अधिक है। वर्ष 2016 में मुंबई के सातों तालाबों में तकरीबन 93.11 प्रतिशत पानी जमा था। वर्ष 017 में मुंबई के सातों तालाबों में तकरीबन 94.75  प्रतिशत पानी जमा हुआ था। पिछले साल 23 अगस्त को सातों तालाबों में कुल 93.58 प्रतिशत पानी जमा था।

रोजाना 3,650 लाख लीटर पानी की आपूर्ति

मुंबई को मोडक सागर, तानसा, अपर वैतरणा, मध्य वैतरणा, तुलसी, विहार और भातसा नामक सात तालाबों से पानी आपूर्ति होती है। महानगर की पेयजल जरूरत पूरी करने के लिए 3650 लाख लीटर पानी की आपूर्ति रोजाना होती है। सात तालाबों में से तीन-मोडक सागर, विहार और तुलसी लबालब हो चुके हैं। तानसा में भी 99 प्रतिशत से ज्यादा पानी जमा है।

अक्टूबर में होगी समीक्षा

अमूमन सितंबर तक बारिश होती है। इसलिए एक अक्टूबर को सभी तालाबों में मौजूद पानी की समीक्षा की जाती है। बारिश खत्म होने के बाद एक अक्टूबर को तालाब में उपलब्ध पानी की रिपोर्ट ली जाती है। इसके तहत मुंबईकरों  के लिए पानी आपूर्ति की योजना बनाई जाती है। इसके तहत सातों तालाबों में वर्ष भर के लिए 14.47 लाख मिलियन लीटर पानी होना चाहिए। पिछले वर्ष एक अक्टूबर को तालाबों में तकरीबन दो लाख लीटर पानी कम जमा था। इसे देखते हुए नवंबर से 10 प्रतिशत पानी कटौती घोषित की गई थी। 20 जुलाई को पानी कटौती वापस ली गई।

23 अगस्त को तालाबों में जमा पानी     (लाख लीटर)

तालाब                        जमा पानी             प्रतिशत
अपर वैतरणा               2,05,775            90.63
मोडक सागर               1,26,104          100
तानसा                        1,441,22            99.34
मध्य वैतरणा                1,89,096            97.71
भातसा                        6,84,114           95.41
विहार                            2,76,98         100
तुलसी                             8,046          100
कुल                          13,84.955           95.69

Share